सौटिन्याँ डाइ

सौटिन्याँ डाइ

कबिता
सौटिन्याँ डाइ

डस बर्सक् छुटी छाइ
भर्खरिक टेंम्ह्री
लगटार बहना
लड्यक पानी जस्ट
लर्कैया बुद्धि
पापी डाइ जलम डैके
लर्का ठर्वा छोरल
कट्रा निर्डयी रह

मने,
मै बिमार हुइलसे
बिर्वा, आछट पाटी हेराडेना
हाँठ, गोरा बठैलेसे
सर्रीक टेलले मलडेना
कपार बठैलेसे
पानीक् छोपा लगाडेना
जरम डेहल डाइसे मजा
मोर सौटिन्याँ डाइ

कबु काम निअर्हैना
हरेक नैजानल
बाट सिखैना
कबु कर्रा अँख्राले निबोलल्
अपने जरम नैडेलसे फेन
अपन जरमाइल लर्काहस मन्ना
उ पापी डाइसे निक मन्ना
मोर सौटिन्याँ डाइ

मुह पर ट नै कनु कबु
सौटिन्याँ डाइ
मन मन किल कहल हुइम
मोर मन कह
कि कबु कहिस फेन नै
अभिनसम महिन
कुछ चिजके कमि नैकर्ल हो
जरम नैडेहल ट काहुइल
मजा संस्कार ट डेल बाट जे
मोर सौटिन्याँ डाइ

औरक् ठेसे सुनल रहुँ
सौटिन्याँ डाइ कलक
अपन निहुइटै कैख
मने,
यी सब गलट हो
अपने जस्ट व्यवहार कर्बो
हुक्र फेन ओस्ट व्यवहार करही
मैयँक बोलिम अट्रा टाकट जो बा
ओह ट कठँु
मोर लाग भगवान हुइटो
मार्गडर्सक हुइटो
ढक्ढिउरक ढर्कन हुइटो
मोर जिन्गिम
शिशिर बसन्टके मौसम
बन्के अइलो
मोर सौटिन्याँ डाइ

सन्देश दहित
जानकी गाउँपालिका–२ खरग्वार, कैलाली

सन्देश दहित

सन्देश दहित

जनआवाजको टिप्पणीहरू

पाछेक साहित्य

गजल

पट्ठरहे खुशी पारक लाग फुला चह्राइक् परठ ।ना बोलठ् ना चलठ टबफें शिर झुकाइक् परठ । स्वार्थी समाज स्वार्थी संसार अस्टही बा यहाँ,केकरो चोटमे अपन मन काहे रुवाइक्


वसन्त चौधरी

सुर्खेत ओ दाङके सम्झना

संस्मरण कृष्णपुर गुलरिया कंचनपुरसे थारुनके धरोहर जोगराज चौधरीके नेतृत्वमे वडा नम्बर ३,५,६ केअध्यक्ष क्रमश सुन्दर चौधरी, आशुराम चौधरी, नत्थुराम चौधरी ओ


वीरबदाहुर राजवंशी


वसन्त चौधरी